Sunday, February 17, 2019

Dr. B. R. Ambedkar Life Story [Motivational Story]

B. R. Ambedkar
दोस्तों आज हम बात करेंगे Dr. Bhim Rao Ambedkar के बारेमे।  जिनको हम father of Indian constitution के नाम से जाना जाता है।  

Ambedkar एक Economist, Politicians or Social Activist वि थे। India के जो निचले जाती को इनहोने main stream में लेन के लिए बोहोत जादा कोसिस किया हे। Buddhist movement की सुरुआत क्या और दलित लोगो के साथ जो भेदभाव के against campaigning चलाया हे। और women labour and women का अधिकार के लिए इनहोने लड़ाई किया हे। 

इसका एक तो reason हे की Ambedkar अपनी देश का बिकास चाहते थे। और Ambedkar खुद एक निचले जाती की होने के बजसे खुद बोहोत कुछ परेशानी झेला हे और Ambedkar जानते थे ये दरद कयसा होता हे। 


Date Of Birth Of Dr. B. R. Ambedkar

Dr. B. R. Ambedkar का जन्म 14 April 1891 में मध्यप्रदेश (Madhy a Pradesh) की Mahua army cant में हुआ था। 

मूल रूप से इनके family एक मराठी परिवार हे जो महाराष्ट्र में रतनगिरि distric से belong करता हे। 

इनके father indian army में सूबेदार के post पर काम करते थे। 


Ambedkar student life story - बचपन की कहानी 

Dr. Ambedkar एक low cast से belong करते थे और नीची जाती होने के बजेसे बाचपन में कुछ येसे incident हुआ जिसकी बजेसे उनकी मान में बोहोत गहरा चोट अये थी। 

बचपनमे  Ambedkar को परनेका बोहोत जादा शोक था। और उनके father बोहोत कास्ट करके army school में admission कराया। लेकिन school में student और teacher साब उनके साथ बोहोत ख़राब बबहार करते थे। 

Teacher उनको class के अंडर जाने नहीं देते। मगर उनकी dedication इतने थे की उनहोने class के बहार से knowledge इकट्ठा कर लेते थे। 

एकदिन Ambedkar school से home जा रहे थे और उनको बोहोत जादा प्यासा लगा था। मगर उनको कुंआ (well) में जाने के लिए माना किया गया था। मगर उनको प्यासा इतनी जादा थी की उनहोने जाकर पानी पि लिया। 

ये करते हुए किसीने उनको डेक लिया और उमर ना देखते हुऐ उनको लाठी से बोहोत मारा और पीटा। घाव के निशान उनके सिर्फ सरीर में नहीं उनके दिल पे जाकर लागा। 

B. R. Ambedkar और उनके दलित दोस्त जाब school में था और जब पानी था , इनके लिए उनको tubewell के बोहोत दूर से पानी पिलाया जाता था और ये काम school के एक कर्मचारी उसे पानी पिलाता था। और जाब कर्मचारी school में नेही आता था उसदिन Ambedkar प्यासा में रहता था। 

School में इतना अत्याचार सेहन करने के बाद बारे होकर Ambedkar ये ठान लिया कुछ करना हे उन निचले जाती के लिए जिससे उन सवी लोगो को मुक्ति मिले। 

भारत के आजादी का जो Minister Cabinet List बना और जहरलाल नेहरू जब महात्मा गान्धी के पास जाब list लेकर आये तब महात्मा गान्धी बोला की इसमे बी आर अंबेडकर कहा हे ?

किउकी गान्धी जी को लगता था की अंबेडकर राज भोग के लिए नेही लोगो के लिए काम करता हे। 

और अंबेडकर को constitution draft का chairman बना दिया गया। कियुकी constitution का head थे Ambedkar ने fundamental right concept का add किया। जिसके बजैयेसे लोगो के अंदर भादा भेद ना हो सके। 

Ambedkar सिर्फ low caste के नहीं लड़ा बालके women right के ऊपर लड़ाई किया। जैसे की divorce, 2nd marriage or child adaptation.


Final Words

Dr. B. R. Ambedkar अपने जीबन में बोहोत अच्छा अच्छा काम किया हे और इस बजसे हम सभी Ambedkar को बोहोत ज्यादा सम्मान करते हे। 

अगर आपको इस article में से कुछ सिखने को मिला हे, आप इसे share जरूर करे और हमें follow जरूर करे। 

Source: IdealFollow
Previous Post
Next Post